इस अंगूठी को पहनने से मिलती है हर कार्य में सफलता और बनती है आपको करोड़पति

उपाय टोटके

ज्योतिष शास्त्र में विश्वास करने वाले लोगों को अक्सर हाथ में किसी न किसी रत्न वाली अंगूठी पहने हुए देखा जाता है, जो उनकी कुंडली से जुड़ी होती है। इसके अलावा आपने देखा होगा कि कुछ लोग आजकल कछुए की शेप वाली अंगूठी भी उंगली में पहनकर रखते हैं।

कहते हैं कि यह वास्तु और ज्योतिष दोनों ही तरह से शुभ होती है। इसकी वजह से किसी भी शख्स के दोष शांत हो जाते हैं। सिर्फ इतना ही नहीं, ऐसा भी कहा जाता है कि इस अंगूठी को धारण करने वाले व्यक्ति में आत्म विश्वास भी बढ़ जाता है।

कछुए की अंगूठी से वास्तुशास्त्र दूर होता है और घर से नकारात्मक ऊर्जा के स्थान पर सकारात्मक  ऊर्जा आती है।

भारतीय ज्योतिष में कछुए को लक्ष्मी का प्रतीक माना गया है। इसलिए इसको पहनने से घर पर धन और सुख-समृद्धि आती है।

कछुआ शान्ति और धैर्य का प्रतीक माना जाता है इसलिए इसकी अंगूठी पहनने से मनुष्य के अंदर धैर्य और शान्ति आती है। कछुए की अंगूठी को केवल चांदी की धातु से ही बनवाना चाहिए तभी शुभ फल की प्राप्ति होती है।

कछुए की अंगूठी को दाये हाथ में ही पहननी चाहिए। बाएं हाथ में पहनने से इसका लाभ नहीं मिलता। कछुए की अंगूठी को हमेशा तर्जनी और बीच की उंगली में पहनना चाहिए। कछुए की अंगूठी को पहनते वक्त इस बात का ध्यान देना चाहिए कछुए का सिर बाहर की ओर होना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *